Business

Metavers: Facebook ने अपना नाम बदला: Facebook का नया नाम Meta, ‘Metaverse’ विजन पर जोर।

Metaverse

Facebook ने अपना नाम बदला: Facebook का नया नाम Meta, ‘Metaverse’ विजन पर जोर: Facebook CEO Mark Zuckerbe ने कहा कि उनकी कंपनी भविष्य के लिए अपनी वर्चुअल-रियलिटी विजन को शामिल करने के प्रयास में खुद को मेटा के रूप में रीब्रांडिंग कर रही है, जिसे फेसबुक फर्स्ट की जगह मेटावर्स फर्स्ट होगा। Facebook के संस्थापक और CEO Mark Zuckerbe ने गुरुवार को ऑकलैंड में वार्षिक सम्मेलन में यह घोषणा की ।

facebook-metaverse
facebook-metaverse

Metavers: Facebook

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की रीब्रांडिंग से कंपनी की व्यापक महत्वाकांक्षाएं परिलक्षित होती हैं जो Metaverse से संबंधित और Facebook से दूर हैं, जो अपने सभी Products से बारीकी से जुड़ी एक पहचान है ।

Facebook को एक सोशल मीडिया कंपनी के रूप में देखा जाता है। Facebook दुनिया के इतिहास में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट है। CEO Mark Zuckerbe ने कहा, यह एक प्रतिष्ठित सोशल मीडिया ब्रांड है ।

हालांकि, Whatsapp और Instagram जैसे Apps के परिवार और कंपनी वर्चुअल और ऑगमेंटेड रियलिटी (virtual and augmented Reality) में जो काम कर रही है, उसे देखते हुए कंपनी अब यह नहीं दिखाती कि वह क्या करती है । जुकरबर्ग ने घोषणा की, “यह प्रतिबिंबित करने के लिए कि हम कौन हैं और भविष्य के लिए आशा करते हैं, मुझे यह साझा करने पर गर्व है कि हमारी कंपनी अब Meta है ।

इसका मतलब यह है कि Facebook, Whatsapp और Instagram जैसे Apps के परिवार और Metaverse बनाने वाली उनकी Reality Labs का भी अब Meta में शामिल में होगा ।

Meta Brand

Facebook या Meta, जैसा कि अब कहा जाएगा, Metaverse पर भारी निवेश कर रहा है । इस हफ्ते एक कमाई कॉल के दौरान कंपनी ने कहा कि वह Metaverse बनाने के लिए रियलिटी लैब्स पर इस साल $१०,०,०,० का निवेश करेगी ।

कंपनी Metaverse का उपयोग करने के नए तरीकों के साथ $१५०,०,० का निवेश करेगी । “अभी हमारे ब्रांड इतनी कसकर एक प्रॉडक्ट से जुड़ा हुआ है कि भविष्य में, अकेले चलो, हम सब कुछ हम आज का प्रतिनिधित्व नहीं कर सकते । जुकरबर्ग ने कहा, समय के साथ, मुझे उम्मीद है कि हमें एक Metaverse कंपनी के रूप में देखा जाएगा और मैं अपने काम और जिस दिशा में हम निर्माण कर रहे हैं, उस पर अपनी पहचान बढ़ाना चाहता हूं ।

1 दिसंबर से नए नाम के तहत ट्रेडिंग भी होगी

कंपनी के शेयर MVRS (Meta Platform Ink) से कारोबार शुरू करेंगे । 1 दिसंबर से FB के बजाय MVRC। जुकरबर्ग ने कहा कि ग्रीक वार्ड ‘ बियॉन्ड ‘ से मेटा शब्द आय है। यह दुनिया में कंपनी अच्छी तरह से प्रतिनिधित्व करता है। हमारी कंपनी ऐसी है कि लोगों को जोड़ने के लिए Technology बनाता है । इस परिवर्तन मतलब एक हि है जो कि Facebook को Metaverse कंपनी के रूप में पेश करना।

Facebook To मेटावर्स कि री-ब्रांडिंग वैसी ही होगी जैसे Google ने Alphabet नाम से ओरिजनल स्ट्रक्चर सेट करने के लिए किया था। Whatsapp ,इंस्टाग्राम, इत्यादी जैसे दुसरे Apps और उनकी Services बेसिक स्ट्रक्चर में ही काम करेंगे। हालांकि Facebook कॉरपोरेट री-स्ट्रक्चरिंग नहीं करेगी जैसे Google Alphabet ने किया था। जुकरबर्ग ने कहा है कि Metaverse फाइनेंशियल रिपोर्टिंग दो सेगमेंट- Reality Labs और Family of Apps में बंट जाएगी।

Also Read: Nykaa IPO: इस हफ्ते Subscription के लिए खुलेगा इश्यू, जानिए क्या चल रहा है GMP

मेटावर्स क्या है ? | What is Metaverse?

मेटावर्स एक तरह का virtual and augmented Reality वर्ल्ड होगा जिसे हम एक तरह की आभासी दुनिया भी केह सकते है। इस दुनिया मैं आपकी एक अलग पहचान होगी जिसे हम एक Parallel World केहते है। उस Parallel World में आप घूमने, शॉपिंग से लेकर, इस दुनिया में ही अपने दोस्तों-रिश्तेदारों से मिल सकेंगे।

कैसे काम करते हैं मेटावर्स ? | How does Metaverse work?

Metaverse Augmented Reality, Virtual Reality, Blockchain Technology और Artificial Intelligence जैसी कई टेक्नोलॉजी के कॉम्बिनेशन पर काम करता है।

आप कब तक मेटावर्स का अनुभव प्राप्त कर सकते हैं? | How long can you get experience of metaverse?

Facebook ब्लॉग के मुताबिक, कंपनी इस समय Metaverse बनाने के शुरुआती दौर में है। मेटावर्स को पूरी तरह विकसित होने में 10 से 15 साल लग सकते हैं। साथ ही यह समझना जरूरी है कि कोई भी कंपनी मेटावर्स नहीं बना सकती। यह अलग-अलग टेक्नोलॉजी का बड़ा नेटवर्क है जिस पर कई कंपनियां मिलकर काम कर रही हैं।

मेटावर्स पर कौन सी कंपनियां काम कर रही हैं? | Which companies are working on metaverse?

मेटावर्स में एसेट क्रिएशन, इंटरफेस क्रिएशन, प्रॉडक्ट्स, फाइनेंशियल सर्विसेज और सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर, जैसी कई श्रेणियां हैं । इन सभी श्रेणियों पर सैकड़ों कंपनियां काम कर रही हैं। Facebook के अलावा Google, Apple, Snapchat और Epic Games ऐसे बड़े नाम हैं जो कई सालों से मेटावर्स पर काम कर रहे हैं । अनुमान है कि 2035 तक मेटावर्स 74.8 लाख करोड़ रुपये का उद्योग हो सकता है।

मेटावर्स के बारे में अब तक का बड़ा इवेंट कहा हुआ है?

Fortnite Game हाल ही में काफी चर्चा में रहा था। Game ने अपने यूजर्स के लिए एक ‘म्यूजिक एक्सपीरिएंस’ होस्ट किया। यूजर गेम के अंदर कलाकार के लाइव म्यूजिक परफॉर्मेंस का आनंद ले सकते हैं। Fortnite Game करने वाली कंपनी एपिक गेम्स मेटावर्स पर बहुत पहले काम कर रही है। Fortnite ने हाल ही में गायिका एरियाना ग्रांडे का लाइव कंसर्ट आयोजित किया । Fortnite पहले ही अपने खेल में विभिन्न कलाकारों के लाइव कॉन्सर्ट का आयोजन कर चुका है।

Also Read: Stock Market Holidays 2022 | NSE Holidays in 2022

Check Your Cibil Report

Leave a Comment